News & Events
मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने वकीलो को फ्रंटलाइन माना और वैक्सीनशन में प्राथमिकता देने की घोषणा की है,कांग्रेस विधि विभाग ने मुख्यमंत्री का आभार जताया

मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने वकीलो को फ्रंटलाइन माना और वैक्सीनशन में प्राथमिकता देने की घोषणा की है,कांग्रेस विधि विभाग ने मुख्यमंत्री का आभार जताया

 बिलासपुर-मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण के लिए अहम घोषणा की है जिसके तहत विभिन्न श्रेणियों के लोगों को फ्रंट लाईन वर्कर मानते हुए उनके टीकाकरण करने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही राज्य के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण के लिए अहम घोषणा की है जिसके तहत विभिन्न श्रेणियों के लोगों को फ्रंट लाईन वर्कर मानते हुए उनके टीकाकरण करने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही राज्य के पत्रकार और वकीलों तथा उनके परिजनों को भी फ्रंट लाईन वर्कर के समान ही टीकाकरण करने की मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने घोषणा की है। *पत्रकारों* और *वकीलों* तथा *उनके परिजनों* को भी फ्रंट लाईन वर्कर के समान ही टीकाकरण करने की मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने घोषणा की प्रदेश कांग्रेस विधि के अध्यक्ष संदीप दुबे ने स्वागत किया है, बताया कि भारत मे छत्तीसगढ़ पहला प्रदेश है जहाँ वकीलो को फ्रंटलाइन में माना है दुबे ने आगे कहा प्रदेश के साथ केंद्र सरकार भेदभाव कर रही है, केंद्र द्वारा इस माह अपने 50 परसेंट कोटा में से एक भी वैक्सीन नही उपलब्ध करवा रही है ,राज्य को बॉयोटेक कंपनी द्वारा खरीदी पर जो वैक्सीन मिल रही है ,उसके कारण सरकार द्वारा वर्गीकरण किया गया है। बीजेपी के नेताओ द्वारा मोदी से वैक्सीन की मांग नही की जा रही ,सिर्फ आलोचना करने का कार्य ठीक नही है।